चाइनिज कंपनियों के कांट्रैक्ट हरियाणा सरकार ने रद्द किये

Total Views : 156
Zoom In Zoom Out Read Later Print

यमुनानगर और हिसार थर्मल प्लांट मे नही लगेगा चाइनिज कंपनी का सामान | हिसार के पावर प्लांट के लिए भी तीन कंपनी के आवेदन आए थे जिसमें दो चाइनिज और एक इंडियन थी । हरियाणा सरकार ने ये दोनों ही कांट्रैक्ट को रद्द कर दिया है ।

लद्धाख मे 20 भारतीय जवानों की शहादत के बाद देश में लगातार ही चाइनिज कंपनियों का चाइनिज प्रॉडक्ट का विरोध किया जा रहा है ॰ हरियाणा सरकार ने भी चाइनिज कंपनी को दिये गए कांट्रैक्ट रद्द कर दिये गए है। यमुनानगर और हिसार के थर्मल प्लांट के चाइनिज कंपनी को दिये गए ठेके रद्द कर दिये गए हैं।

7 दिसम्बर 2015 को मिनिस्टरी ऑफ फॉरेस्ट एंड क्लाइमेट चेंज (MOF&CC) के आदेश के बाद थर्मल प्लांट में pollution कंट्रोल equipment लगाना आनिवार्य कर दिया गया था । हरियाणा सरकार ने अपने इन दो प्लांट के लिए आवेदन अम्नत्रित किए थे । यमुनानगर के दीन बंधु छोटू राम पावर प्लांट के लिए पाँच आवेदन आए थे जिसमे से तीन चाइनिज कंपनी के थे और दो भारतीय कंपनी । दो भारतीय कंपनी मे से भी सिर्फ BHEL एकमात्र कंपनी थी जिसका चाइना से किसी भी तरह का कोई अनुबंध नहीं था । हिसार के पावर प्लांट के लिए भी तीन कंपनी के आवेदन आए थे जिसमें दो चाइनिज और एक इंडियन थी ।

See More

Latest Photos